पीलीभीत -मोहल्ला देशनगर पहुचें पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा दोनों पक्षों से की...

पीलीभीत -मोहल्ला देशनगर पहुचें पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा दोनों पक्षों से की बात

46
0
SHARE

पीलीभीत पुलिस की कड़ी कार्रवाई के बाद देशनगर में हुआ बवाल अब नियंत्रण में है। फिलहाल घटना के तीसरे दिन सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस फोर्स मोहल्ले में तैनात रहा। पुलिस अधिकारियों के साथ ही प्रशासन के अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को सुरक्षा का भरोसा दिलाते रहे। इधर पूर्व राज्यमंत्री भी मोहल्ले में पहुंचे और उन्होंने दोनों पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील की।
कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला देशनगर में शुक्रवार की रात मामूली सी बात पर बड़ा बवाल हो गया। दो पक्षों की बीच जमकर पथराव और हवाई फयरिंग हुई। बवाल की सूचना पर डीएम, एसपी सहित आला अफसर घटनास्थल पर पहुंचे और बड़ी मुश्किल से बवाल को शांत करा सके। घटना के बाद से अब तक मोहल्ला छावनी बना हुआ है। मोहल्ले में चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा है। घटना के बाद पुलिस ने 14 लोगों को मौके से गिरफ्तार कर चालान किया। बवाल के मामले में कोतवाली पुलिस ने 35 नामजद और करीब 140 अज्ञात के खिलाफ बलवा, जानलेवा हमला आदि गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है। इधर घटना में एक पक्ष के तीन लोगों घायल हो गए थे इसमें घायल राजकुमार की हालत गंभीर होने पर उसे इलाज के लिए लखनऊ रेफर कर दिया गया है। घटना के तीसरे दिन रविवार को मोहल्ले में शांतिपूर्ण तनाव बना रहा। इधर रविवार को सपा सरकार में राज्यमंत्री रहे हेमराज वर्मा घटनास्थल पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने दोनों पक्षों से बात की और शांति बनाए रखने की अपील की। साथ ही आपस में समझौता बनाने कराने की बात कही। इस मौके पर सपा जिलाध्यक्ष आनन्द सिंह यादव, संतोष बाल्मीकि, धमेंद्र लोधी आदि मौजूद रहे।
ये थी घटना : मोहल्ला देशनगर निवासी शिवम राजपूत शुक्रवार रात करीब साढ़े नौ बजे जिम से वापस घर साइकिल से लौट रहा था। साइकिल में ब्रेक हल्के होने पर उसने रास्ते में खड़े लोगों से हटने को कहा। इस पर उन लोगों ने तंज कसा, जिसका विरोध शिवम ने किया। इस पर आरोपियों ने उसे बुरी तरह पीट डाला। इस पर शिवम अपने चाचा राजकुमार, बंटी और जोंगेंद्र बुला लाया। इसके बाद दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि जमकर पथराव और हवाई फायरिंग शुरू हो गई। पथराव और फायरिंग होते ही मोहल्ले में भगदड़ मच गई। इधर घटना की सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची पर बवाल दो पक्षों का होने पर मामला कंट्रोल नहीं हो सका।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY