Pilibhit.दो सीसीटीवी कैमरे से लैस होंगे परीक्षा कक्ष

Pilibhit.दो सीसीटीवी कैमरे से लैस होंगे परीक्षा कक्ष

22
0
SHARE

यूपी बोर्ड परीक्षा को नकलविहीन कराने के लिए इस बार और भी सख्ती बरती जाएगी। इसके लिए अब हर परीक्षा केन्द्र पर सीसीटीवी कैमरों की संख्या भी अधिक होगी और वॉयस रिकार्डर भी जरूरी होगा। इस बार हर परीक्षा कक्ष में दो सीसी कैमरे लगे होंगे। एक कैमरे का फोकस परीक्षार्थियों के चेहरे पर होगा तो दूसरे का उनकी पीठ पर। इससे परीक्षा कक्ष की हर गतिविधि इन कैमरों में कैद होगी। यूपी बोर्ड परीक्षा की तैयारियों को लेकर सोमवार को डीआईओएस की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक में प्रधानाचार्यों को यह दिशा-निर्देश दिए गए।

प्रदेश में भाजपा सरकार आने के बाद से ही यूपी बोर्ड परीक्षा को तकनीक के बल पर नकलविहीन कराने की कवायद शुरू हुई। इस कवायद के चलते ही पिछले सत्र की बोर्ड परीक्षा पहली बार सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में हुई। इससे परीक्षा को नकलविहीन कराने में खासी सफलता मिली। इस सत्र की बोर्ड परीक्षा को पूरी तरह नकलविहीन कराने के लिए तकनीकी का इस्तेमाल और भी बढ़ाने की कवायद हुई है। इसमें परीक्षा केन्द्रों को सीसीटीवी कैमरों के साथ ही वायस रिकार्डर से भी जोड़ना है। इसके अलावा शासन ने परीक्षा को लेकर कई दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इन दिशा-निर्देशों की जानकारी से सभी परीक्षा केन्द्रों के प्रधानाचार्यों को अवगत कराने के लिए सोमवार को डीआईओएस संत प्रकाश ने इन केन्द्रों के प्रधानाचार्यों की बैठक बुलाई। यह बैठक शहर के ड्रमंड जीआईसी में उन्हीं की अध्यक्षता में हुई। इसमें डीआईओएस ने सबसे पहले परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरों और वायस रिकार्डर की स्थिति की समीक्षा की। इसमें 90 प्रतिशत परीक्षा केन्द्रों पर इनकी मौजूदगी होने की जानकारी हुई। इसके बाद उन्होंने परीक्षा को लेकर बोर्ड से जारी हुए दिशा-निर्देशों की जानकारी दी। इसमें लापरवाही बरतने पर होने वाली कार्रवाई के बारे में भी बताया। उन्होंने सभी प्रधानाचार्यों को आगाह किया कि वह परीक्षा के दौरान किसी भी हाल में लापरवाही नहीं बरतें

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY